बाँदा जिले के बरेठी कला गाँव में स्वच्छ भारत की पहचान कुछ ऐसी, लोगों का आरोप, नहीं है शौचालय

जिला बांदा, ब्लाक तिन्दवारी, गांव बरेठी कला स्वच्छता अभियान के तहत या गांव मा शौचालय बनवाये गें रहै। छह महीना पहिले या गांव का स्वच्छ मिशन के तहत लइ लीन गा हैं। पै अबै तक गांव के मड़इन के शौचालय नहीं बने आहीं।
पार्वती अउर रानी का कहब है कि अबै तक हमार शौचालय नहीं बने आहीं। शौचालय खातिर खेत जायें का पड़त है तौ डेर लागत है कि कत्तौ मड़ई गाली न दें लागे अउर कत्तौ मारे न लागे। पै मजबूरी के कारन हमें खेतन मा शौचालय खातिर जाये का पड़त हैं।
महरी अउर सुमन का कहब है कि हमार मुहल्ला मा सब के एक कइत से शौचालय बन गें है पै हमार शौचालय अबै तक नहीं बना आय। शौचालय खातिर 12 हजार रुपिया आवा हैं। प्रधान से कहित हन तौ प्रधान कहत है कि बन जइ हैं। पै अबै तक नहीं बनें आहीं।
प्रधान बिंदा का कहब है हम मड़इन के शौचालय बनवाइत हन। काहे से सरकार हमार खाता मा शौचालय का रुपिया भेजत हवै सरकार मड़इन के खाता मा रुपिया भेंजत रहै तौ मड़ई खर्चा कइ डालत रहैं। यहै कारन सरकार या नियम बनाइस हैं।

रिपोर्टर- शिवदेवी

Published on Feb 7, 2017