बाँदा जिले के बछेई गाँव के लोगों का आरोप कोटेदार बेचता है राशन

बांदा जिला, ब्लाक महुंवा, गांव बछेई सरकार गरीब मड़इन का राशन के सुविधा दिहिस हैं। पै कोटेदार के कालाबाजारी के कारन मड़इन तक या सुविधा नही पहुंच पावत। हेंया 22 नवम्बर का कोटेदार का 3 कुन्तल गेहूं कालाबाजारी करत पकड़ा गा है।
पूर्व बी डीसी सदस्य विजय बहादुर का कहब है किप्रधान समेत हम पांच मड़ई कोटेदार का गेहूं पकड़े हन। यहिसे पहिले भी कइयौ दरकी वा राशन का सामान बेंच चुका हैं। या दरकी हम रंगे हाथ पकड़े हन, तौ सीधे डी एम कार्यालय मा आये हन।
एस डी एम 1 घंटाके भीतर कारवाही करै का कहिनहै। कोटा सस्पेंड करा के दूसर दुकान खोलावै का कहिन हैं। गांव के मनमोहन का कहब है कि छह सदस्य का राशन कार्ड बना है। पै कोटेदार 4 सदस्य का राशन देत हैं।
शिवकुमारी बताइस कि 8 सदस्य के राशन कार्ड मा कोटेदार 7 पसेरी गल्ला देत है। 22 रुपिया लीटर मिट्टी का तेल देत हैं। चीनी नही देत हैं। कुछौ कहो तौ कोटेदार कहत है येत्ता सामान बस आवत हैं। विभाग मा बी डी सी कोटेदार के शिकायत करिस रहैं। तबै साहब आये रहै तौ जउन पुरान बांट से तौलत रहै वहिका हटा के नये बांट जउन घर मा रखे रहै वहिका तौले खातिर दिहिन। तबै कोटेदार पैसा दइ के छूटगा रहै।
कोटेदार का भाई पप्पू बताइस कि पुरान नेता अउर गुंडा हमैं परेशान करत हैं। जेहिमा प्रधान बी डी सी सबै शामिल हैं। चार दिना पहिले धमकी दिहिस रहै कि कोटेदार का फंसा देबै। नरैनी के सप्लाई इंस्पेक्टर याकूब खां का कहब है कि जांच पूरी होय के बाद या केस का खुलासा होई।

रिपोर्टर- गीता