बाँदा जिले के दामूगंज मोहल्ले में डॉक्टर की लापरवाही से गई जान

जिला बांदा, कस्बा बांदा, दाम गंज मुहल्ला हेंया 20 जनवरी का रामू रैकवार के गौरव क्लीनिक के डाक्टर के लापरवाही के कारन जान चली गे हैं। रामू के परिवार वाले डाक्टर के खिलाफ रपट लिखाइन हैं। डाक्टर सियाराम साहू फरार हैं।
रामू का भाई लवकुश रैकवार का कहब है कि मोर भाई के तबियत ख़राब रहै तबै गौरव क्लीनिक मा भर्ती कीने हन। क्लीनिक का डाक्टर सियाराम साहू बिना जांच करे मोर भाई के दुई सूई लगा दिहिस अउर बोतल चढ़ावत रहै
वहिके बाद जबै बोतल आधी चढ़ गे तौ डाक्टर वहिके दूसर बोतल लगा दिहिस। तबै मोर भाई उलटी कइ दिहिस तबै हम कइयौ दरकी डाक्टर से कहा कि रिफर कइ देव, पै डाक्टर कहत रहै मरीज ठीक है अउर मोर भाई के जान लइ लिहिस।
तबै डाक्टर समझौता करे के कोशिश करै लाग अउर हमें रुपिया का लालच दे लाग। कत्तो तीन लाख कत्तो पांच लाख के लालच डेत रहे। पै हम समझौता न करबै। एफ. आई. आर करे हन हमे नियाव चाही। मोहल्ला मा येहितान के चार पांच केस होइ चुके है।
जलंधर बताइस कि दुइ साल पहिले गौरव क्लीनिक का डाक्टर मोर 11 साल के लड़का के दवाई करिस रहै, तौ वहिके बोलत बतात बतात जान चली गे रहै।
फूल कुमारी बताइस कि मोर बिटिया उलटी टट्टी करत रहै तबै डाक्टर सूई लगाइस तौ वहिके जान चली गे रहै।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाक्टर ए. वी. कटियार का कहब हवै कि जाँच के बाद कारवाही होइ।

रिपोर्टर- मीरा देवी

Published on Jan 25, 2017