बाँदा के नरैनी ब्लॉक में यादव बाहुल गाँव के निवासी का चुनाव बहिष्कार #UPPolls #UPElection2017

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी, गांव कुलसारी बलदेव का पुरवा यादव जाति का या गांव अउर यादव जाति के सरकार तबहूं चुनावी महौल मा चुनाव का बहिष्कार करिन हैं। काहे से गांव के मड़ई अबै भी बिजली, पानी, सड़क, शिक्षा अउर स्वास्थ्य जइसे समस्या से जूझत हैं। सरकार के झूठ वादा से परेशान मड़ई चुनाव का बहिष्कार करिन हैं।
सुशील कुमार यादव का कहब है कि पांच साल पहिले विधायक गया चरण दिनकर आये रहै। गांव के सबै समस्या का खतम करै का वादा भी करिन रहैं। पै पांच साल बीते के बाद भी समस्या पहिले से ज्यादा ख़राब होइ गे है। लक्षमिनिया बताइस कि रात बिरात मड़ई बीमार होइ जात हैं, तौ दवाई करावै का अस्पताल नहीं आय।
युवराज यादव का कहब हवै कि हमार गांव मा अबै तक सूखा राहत का रुपिया नहीं आवा। सड़क, बिजली, पिये के पानी के अबै भी समस्या है। अबै तक गांव मा कउनौ नेता नहीं आये आहीं। नायाब साहब अउर दरोगा जी बस आये रहैं, अउर कहत रहैं, बैनर हटा देव गांव के समस्या का ध्यान दीन जई। पै अब हम कउनौ के झूठ वादा मा न अइबै, जबै हमार काम पूर होइ हम तबहिन वोट देबै।
रामअवतार अउर संतोष कुमार यादव का कहब है कि हमार गांव मा साढ़े छह सौ वोटर है। पै हमार गांव मा कुछौ विकास नहीं आय। गांव मा कउनौ बीमार होइ जायें तौ कन्धा मा लइ के तीन किलोमीटर दूरी अस्पताल जाए का पड़त है। हमार गांव मा कउनौ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नहीं आये। यहै कारन हम गांव के सबै मड़ई फैसला करे हन कि हम तबहिने वोट देबै जबै हमार समस्या खतम होइ।
रज्जू प्रसाद यादव का कहब है कि मोर उमर साठ साल है। मैं पैंतिस साल से वोट देत आहूं। पै अबै तक कउनौ सांसद अउर विधायक हमार गांव मा कुछौ विकास नहीं कराइन आहीं।

रिपोर्टर- गीता

14/02/2017 को प्रकाशित