बनै का चाही शौचालय

शौचालय के करत मांग
शौचालय के करत मांग

जिला चित्रकूट, ब्लाक मऊ, कस्बा लालतारोड। हिंया लगभग पांच हजार मड़ई बीस बरस से शौचालय के मांग करत हवै, पै आज तक शौचालय बनावैं खातिर कउनौ सुनवाई नहीं भे आय।
प्रधान कैलाश का कहब हवै कि शौचालय बनवावै के जिम्म्ेदारी जिला पंचायत राज विभाग के आय। यहिके खातिर प्रधानन का बजट नहीं मिलत हवै।
लालातारोड के जयचन्द्र पाण्डेय का कहब हवै कि शौचालय न होय से सबसे ज्यादा मेहरियन का टट्टी पेशाब के समस्या झेलै का परत हवै। मैं शौचालय बनवाये खातिर कइयौ बरस से प्रधान अधिकारी अउर करमचारी से मांग करत हौं, पै कउनौ नहीं सुनत आय। जबैकि या गली से रोजै आवत जात हवंैै। मैं कइयौ दरकी प्रधान से भी कहे हौं कि अगर रूपिया अउर जमीन के समस्या हवै तौ मैं दइ सकत हौं, पै हिम्मत न हरिहौं जबै तक शौचालय न बन जई। मोहिका चाहे जहां तक जाये का परी तौ मैं जाये का तैयार हौं। शौचालय मोर बस समस्या न होय आम जनता अउर आवै जाये वाले लोगन के भी हवै।
या मामला मा जिला पंचायत राज अधिकारी हरि सहाय का कहब हवै कि अब नवा बजट पास होइ तौ हर कस्बन मा शौचालय बनवावा जई। शौचालय के समस्या तौ पूर जिला मा हवै।