बनारस को खास बनाती गलियों के रंग

29-07-15 Mano Banaras - Gali 1 webबनारस। यह तो सभी जानते हैं कि बनारस गंगा के लिए, यहां के घाटों के लिए, यहां के मन्दिरों के लिए, यहां की साड़ी के लिए, और यहां के पान के लिए मशहूर है। लेकिन इन सबके अलावा बनारस की गलियां इस शहर को अलग बनाती हैं। बनारस की हर गली अपने आप में खास है चाहे वो खोया गली हो, कचैड़ी गली हो या लोहा गली।

शुरू करते हैं बनारस की गोला गली से। यह बनारस की ऐसी गली है जहां हर तरह की मेवा और दुनियाभर के मसाले मिलते हैं। ऐसा कोई भी मसाला नहीं होगा जो आपको यहां पर न मिले।

यहां पर मेवे की दुकान लगाए चैरासी साल के शिवशंकर बताते हैं कि सालों से यहां पर मेवे की दुकान लगा रहा हूं। इससे पहले मेरे पिताजी ये दुकान करते थे अब हम करते है। शायद जब से बनारस शुरू हुआ हंै तब से यहां पर ये दुकान लगती आयी है। पूरे बनारस के लोग यहां तक कि दूसरे, जिलों के लोग भी यहां से सामान लेने आते हैं।

मसालों की दुकान लगाने वाले दीपू बताते हैं कि हम खुद नहीं जानते कि हम कब से ये दुकान लगा रहे हैं। इस दुकान में ही पले बढ़े हैं। यहां पर अन्य दुकानदार प्रभु, दीना, दया और अन्य लोग बताते है, कि यहां पर सामान थोड़ा सस्ता मिलता है और हम सामान भी अच्छा रखते हैं। सबसे बड़ी बात और दूसरी कोई ऐसी जगह भी नहीं है। हमारे यहां का सामान दूर-दूर तक मशहूर है।