बढ़ते डायरिया और चिकनगुनिया जैसे रोगों के बावजूद महोबा के गौरहारी गाँव में तीन सालों से नहीं हुई सफाई

जिला महोबा, ब्लाक चरखारी, गांव गौरहारी इते फैल रए डायरिया और चिकिनगुनिया जैसे रोगों के बाद भी तीन साल से सफाई कर्मी देखबे तक नही आए।
जबकि सचिव लखन लाल को जा बात की जानकारी तक नईया। लेकिन अब उनने तत्काल सफाई कराबे की बात कही।
हरिदास ने बताई के हमाय ते गंदगी भोत ज्यादा फैली लेकिन सफाई कर्मी सफाई कबे तक नई आत। और जई के मारे इतनी बिमारी फैल रई और सब परेशान हो रए।
दिलीप ने बताई के पानी आत जब बरसात में सो निकर तक नई पात स्कूल नई जा पात जा के मारे गिर गिर परत।
कुवर बाई ने बताई के हम पानी भरबे के भोत दूर तक जात काय के जा रोड में पानी भर जात सो निकर नई पात। सो पूरो गांव घूम के जाने परत।
पान खा ने बताई के इते कबहु सफाई कर्मी सफाई करबे नई आत। जब सब गांव के निवेदन कर हे के हमे ते कारस देव बाबा महोल्ला में नाली साफ कर दो जब साल भर में एक दो बार आत
सब जने अपने अपने द्वारे खुद सफाई करत। काय के अगर नई करत तो मच्छर हो जात और जी से जे बीमारी हो रई गंदगी के मारे।

रिपोर्टर- सरोज 

19/09/2016 को प्रकाशित

बढ़ते डायरिया और चिकनगुनिया जैसे रोगों के बावजूद महोबा जिले के गौरहारी गाँव में पिछले तीन सालों से नहीं हुई सफाई