बच्चों का स्कूल और बड़ो का काम, दोनों अटके हुए, ललितपुर जिले के मिदरवाहा गाँव की टूटी सड़क के कारण

जिला ललितपुर, गांव मिदरवाहा मोड़ी मोड़न को स्कूल और बड़ेन को काम दोउ रुके ललितपुर जिला के मिदरवाहा गांव की टूटी सड़क के कारन।
पिछले पांच साल से जा सड़क ख़राब हे। इते से कोनऊ साधन नइ निकरत जा के मारे इते के आदमियन को भोत परेशानीयन को समनो करने परत।
फूलबाई ने बताई के हमाय ते की जा सड़क कम से कम पांच साल से ख़राब हे जी के मारे वाहन नइ चलत सो न मोड़ी मोड़ा स्कूल जा पात न कोऊ कितऊ जा पात। भोत परेशानी हे।
आनीता ने बता के जब तबियत ख़राब हो जात तो भोत परेशानी होत काय के कोनऊ वाहन नइ मिलत सो पैदल जाने परत कम से कम पांच छह किलो मीटर दूर निगत जात जब दवाई लेया पात। कछू साधन ही नइया।
झालूक ने बताई के कोनऊ साधन नइ निकरत अब पुलिया टूट गयी सो और परेशानी हो रई। पुलिया टूट गयी सो न अब टेम्पू, मोटरसाइकिल निकर पात। जो सड़क नाराहट से महरौनी तक एसी ख़राब डरी।
पहले टेम्पू बस चलत ती अब सड़क ख़राब हो गयी ऊची नीची हो गयी और एसे में एक मोड़ा मर गओ सो अब बिल्कुल बंद हो गए वाहन।
पी डब्लू डी ने बताई के अबे जो गड्डा हे भरबा दे रए बाकी काम चुनाव बाद हुए।

रिपोर्टर- सुषमा

22/02/2017 को प्रकाशित