बच्चा पैदा करावैं मा रूपिया लेत, ऊपर से मारत

मंजू
मंजू

जिला चित्रकूट, ब्लाक पहाड़ी, गांव वीर धुमाई सुर्की। हिंया के मंजू 6 मई 2014 का पहाड़ी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मा बच्चा पैदा करावैं आई रहै, तौ 108 नम्बर के एम्बुलेंस का ड्राइवर सौ रूपिया चाय अउर नाश्ता का लिहिस हवै। केन्द्र के नर्स भी बच्चा पैदा करवावैं मा पांच सौ रूपिया लिहिन हवैं। अउर मार पीट ऊपर से करिन हवैं। या बात कहत हवै मंजू।
मंजू बताइस कि 6 मई 2014 का पहाड़ी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बच्चा पैदा होय के समय मारपीट भी करिन हवै। जबै मोर पेट मा पीड़ा होत रहै तौ मैं हाथ गोड़ चलावत रहौं। या कारन हुंवा कि नर्स बाल पकड़ के नीचे का गाडे रहै अउर पांच थापर भी मारिन हवंै। या कारन मोर सास नर्स से कहिस कि काहे मारत हवै। यहै से सास का भी चिल्लाइन हवंै। अबै तक तौ बच्चा पैदा करवावै मा नर्स रूपिया लेत रहैं। अब एम्बुलेंस ड्राइवर भी रूपिया लें लाग।
पहाड़ी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के स्टाप नर्स का कहब हवै कि मड़ई अपने खुशी से रूपिया के निछावर करत हवैं। अस्पताल से जाये के बाद मड़ई कहत हवै कि अस्पताल मा नर्स रूपिया लेत हवै। एक महीना से केन्द्र मा मेथारजन दवाई ब्लैड रोकै वाली नहीं आय। या कारन जरूरत के हिसाब से मड़ई का अपने रूपिया से मंगवावै का परत हवै। केन्द्र अउर अस्पताल मा मड़ई इलाज करावैं अउर दवाई लें जात हवैं। मरीज डाक्टर ए.एन.एम अउर नर्स से उम्मीद राखत हवैं कि उनका दुख अउर बीमारी खतम होइ न कि मार पीट के जरूरत हवै।