बच्चा न होय से मनसवा मेहरिया का भेजिस तलाक का नोटिस

बाप के साथै कारवाही करैं आई अनुसुइया
बाप के साथै कारवाही करैं आई अनुसुइया

जिला बांदा, ब्लाक महुआ, गांव पथरहा। हेंया के अनुसुइया का मनसवा बलकेश बच्चा न होय के कारन 28 अप्रैल 2014 का तालाक लें खातिर मइके मा नोटिस भेजिस है। यहिसे अनुसुइया मनसवा के खिलाफ खाना खर्चा का मुकदमा लगावैं चाहत है।
अनुसुइया बताइस-“ग्यारह साल पहिले मोर शादी बांदा शहर के मोहल्ला मर्दननाका के रहैं वाले बलकेश के साथै भे रही है। तबै से मोरे अबै तक बच्चा नहीं भे आय। यहै मारे ससुराल वाले मारपीट के घर से निकार दिहिन तौ मैं तीन साल से अपने मइके मा रहत हौं। उनकर मन यतने मा नहीं भरा तौ तलाक खातिर नोटिस भेज दिहिन हैं। नोटिस मा लिखा है कि अनुसुइया के बच्चा न होइहैं काहे से वहिके अन्दरूनी कमी है। बलकेश दूसर शादी करैं चाहत है। मैं कहेंव कि मोर बहिनी के साथै शादी कर ले, पै वा नहीं तैयार आय। मोरे बेगैर मर्जी के मोहिसे कसत तलाक लई सकत है। या मारे मैं खाना खर्चा अउर शादी रोकवावै खातिर कानूनी कारवाही करिहौं।”
सास फूल कुमारी कहिस कि उंई बांदा से झांसी तक इलाज कराइन हैं, पै कउनौ फायदा नहीं भा। जबै उनसे पत्रकार या सवाल करिन कि शाइत है कि तुम्हार लड़का मा कमी होय तौ वहिकर भी इलाज करावैं का चाही तौ फूलकुमारी कउनौ जवाब नहीं दई पाइस।