बचपन की उम्मीदें क्या आपको याद है? जानिए ललितपुर और फैजाबाद के नन्हें मुन्ने से

नया साल नई उम्मीद अउर बेपनाह खुशी लइके आइगा नया साल जाना जाय फैजाबाद अउर ललितपुर के नन्हे मुन्हे बच्चन से कैसे मनइहैं नया साल अउर काव बाय उम्मीद  
बेरू यादव छात्रा फैजाबाद कै कहब बाय की दोस्त का गिफ्ट दियब अउर पार्टी करब वकरे बाद विंध्याचल दर्शन करै मम्मी पापा के साथ जाब अंकित गोस्वामी ई साल बहुत अच्छा रहा बहुत कुछ सीखेन ज्योति कै कहब बाय की नये साल पै अपने घरे दिल्ली घुमय जाब
ललितपुर के नीरज अहिरवार कै सपना अनोखा बाय उनकै कहब बाय कि अबहीं खुद पढ़त हई वकरे बाद टीचर बनब अउर नए साल पै कुंडेस्वर घूमय जाब
राम मूर्ति पाठक प्रधानाध्यापक पूर्व माध्यमिक विद्यालय पीठापुर कै कहब बाय कि छात्र-छात्रा का अच्छी गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा दिये के ताई शिक्षण अधिगम सामग्री (टीएलएम) कै प्रयोग कीन जाथै सहयोग कै भावना अउर घर जैसा प्यार दिया जा थै जेसे व्यवहारिक रूप से घुला मिला रहा थे अउर अच्छी तरह से  पढ़ाई कराथे

रिपोर्टर-कुमकुम यादव

Published on Dec 29, 2017