फोर्ब्स की सुपर अचीवर्स सूची में 30 भारतीय शामिल

साभार: विकिमीडिया कॉमन्स

अमेरिका की प्रतिष्ठित कारोबारी पत्रिका फोर्ब्स ने 30 साल से कम उम्र के 20 क्षेत्रों के 30-30 सुपर अचीवर्स की सूची में भारतीय मूल के 30 युवाओं को स्थान मिला है। इस सूची में स्वास्थ्य, निर्माण, खेल और वित्त जैसे 20 कारोबारी सेक्टरों में बेहतरीन बदलाव लाने वाले युवाओं के नाम शामिल हैं। इस सूची में कुल 600 लोगों को शामिल किया है। इस सूची में स्थान पाने वाले 30 भारतीयों में नियो लाइट के सह-संस्थापक विवेक कोपार्थी हैं, जिनकी कंपनी ने फोटोथेरेपी डिवाइस का आविष्कार किया है। ये डिवाइस पीलिया बीमारी की रोकथाम के लिए होती है। वहीं 27 साल की प्रार्थना देसाई ने अपनी हार्वर्ड की पढ़ाई बीच में छोड़कर विकासशील देशों के मरीजों तक दवाइयां पहुंचाने के लिए ड्रोन के प्रयोग का काम शुरु किया है। 28 वर्षीय षॉन पटेल ऑर्थोपेडिक सर्जन हैं। उन्होंने ऑर्थोनिंजा मोबाइल ऐप के माध्यम से डॉक्टरों का आपसी संवाद को संभव बनाया है।
समाजिक क्षेत्र के उद्यमी तेजू रविलोचन को सूची में 21वां स्थान मिला है। 27 साल के वरुण शिवराम को पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में काम करने के लिए, 28 साल नेता गुप्ता को औद्योगिक कामगारों को बेहतर सुरक्षा देने के लिए बने ऑगमेंटेड रियल्टी हेडसेट का उत्पादन और वितरण करने के लिए इस सूची में शामिल किया गया है। किसान नेटवर्क के सह-संस्थापक 23 साल के आदित्य अग्रवान को भारतीय किसानों के लिए ऑनलाइन बाजार तैयार करने के लिए इस सूची में रखा गया है। वहीं अक्षय खन्ना को अमेरिकी फुटबॉल टीम फिलेडेल्फिया 76ईआरएस के वाइस प्रसिडेंट के लिए शामिल किया है। सूची में शामिल 600 युवाओं ने अपने उत्साह से विपरीत स्थितियों में बदलाव लाने का काम किया है।