फैजाबाद के छत्रा गाँव में किसान लड़ रहे हैं किसान क्रेडिट की लड़ाई

जिला फैजाबाद, ब्लाक मया, गाँव छतरा के किसानन कै आरोप बाय कि किसान क्रेडिट कार्ड बनवावै के ताई हम महीना भर से बैंक कै चक्कर लगावत हई। पर बैंक वाले बहाना बनायके टालत अहैं। वहीँ बैंक मैनेजर स्टाप के कमी कै रोना रोवत अहैं।
किसान रामचरण यादव कै कहब बाय कि फार्म भरे रहेन लकिन बैंक वाले कहिन कि अबहीं न बनि पाये तौ फार्म उठाय लायेंन। कस्तूरी किसान कै कहब बाय कि पन्द्रह बिगहा खेत बाय खेत सींचै के ताई बोरिंग भए रही उहौ बंद होई गए। इंजन भी नाय बाय जेसे सिंचाई होय सकै। राजेन्द्र कुमार कै कहब बाय कि मोदी सरकार के कहै पै किसान क्रेडिट कार्ड अउर फसली बीमा कार्ड बनत रहा लकिन फसल बीमा कार्ड कटी जाय से किसानन कै जवन नुकशान भा बाय वकै हर्जाना नाय मिल पावत बाय।
श्रवण कुमार कै कहब बाय कि खेत मा खाद छोड़े का बड़ी परेशानी बाय। मेहनत मजदूरी कइके कउनौ तरह घर कै खर्च चला थै।जाबकार्ड भी नाय बना बाय।कउनौ सुबिधा नाय मिलत बाय।क्रेडिट कार्ड बनुवावे जाय तौ कहाथे गारंनटेड लइके आवा हर एक किसान कै उहै समस्या बाय केसे कहै।
राजेन्द्र पाण्डेय कै कहब बाय कि दुई महीना से डाक्यूमेंट एस. बी. आई. मैनेजर के द्वारा रखा गए रहा अउर आशवासन दियत रहे कि तोहार कार्ड बनि जाये लकिन हमार फसल सूखगए दुई महीना बाद कहिन तोहार कार्ड न बनि पाये।
मया ब्लाक एस. बी. आई. शाखा कै प्रबंधक संजय टंडन कै कहब बाय कि स्टाफ कै कमी बाय एस. बी. आई. नोटबंदी से काम काफी बढ़ गा बाय। वसूली कि ताई दौरे का परत बाय।स्टाप कै मांग कीन गए बाय।

रिपोर्टर- संगीता