फिर ढाई जा रही है कहर, चित्रकूट जिले के आदिवासी लोगों पर

जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, गांव अकबरपुर, मजरा ढपाई। विकास के नाम से कहे बार-बार आदिवासी मड़इन का बेदखल कीन जात हवै या बहुतै दुख के बात आय हिंया रहै वाले लगभग अस्सी घर के मड़इन का कुछौ सरकारी सुविधा नहीं मिल पावत आय। मड़ई बतावत हवै कि ठाकुर सुग्रीव सिंह आपन जमीन बता के बिजली के खम्भा नहीं गाड़े देत आय
गणेश का कहब हवै कि हमें बंधुवा मजदूर बना के काम करावत हवै। काम मा करै मा गाली देत हवै। जगन बताइस कि हमार गांव मा कुछौ विकास नहीं भा आयठाकुर जात के मड़ई दादागिरी कइके हमें भगा देत हैं कहत हवै कि आदिवासी का कउनौ विकास न करावा जई
प्रधान प्रतिनिधि नत्थू का कहब का कहब हवै कि आदिवासी चालिस पैतालिस साल से रहत हवै।
ग्राम सभा मा दूसर जघा जमीन पड़ी हवै हम आदिवासी का हुंवा के जमीन देइत हन तौ हुंवा आवास बन जहिहैं अउर विकास होइ जई
रामू बताइस कि ठाकुर के खदान हवै तौ वा जबरजस्ती आपन काम करावत हवै हम आपन मर्जी से दूसर जघा काम नहीं कर पाइत आय। कइयौ दरकी शिकायत तौ कीने हन पै रुपिया के आगे कुछौ सुनवाई नहीं होत आयप्रधान भी बिका हवैजब चुनाव होत हवै तौ हमें पकड़त हवै चुनाव के बाद कइत हवै आपन कमाओ खाओं
डी.एम.शिवाकांत दिवेदी का कहब हवै कि गांव मा सरकारी योजना पूर करे से कोउ नहीं रोक सकत आय। चाहे जेहिके जमीन हो बिजली के खम्भा लगायें जइहैं

बाईलाइन-नाजनी रिजवी

27/10/2017 को प्रकाशित