फसल सूखने पर तहसील पहुंचे बांदा के ऐला गाँव के किसान

नरैनी तहसील में ऐला गाँव के निवासी अपनी सूखती फसल के साथ जमा हुए।  इस मौके पर खबर लहरिया की वरिष्ठ रिपोर्टर गीता ने वहां मौजूद सभी किसानों से बातचीत की और उनकी समस्याएं सुनी।
वहां एकत्र हुए किसानों का कहना है कि उनकी धान की फसल में कीड़ा लग गया है जिसके कारण उनकी पूरी फसल खत्म हो चुकी है और अब उनके पास खाने को भी अन्न नहीं बचा है।  यहाँ किसान सरकार से मुआवजे की मांग कर रहे हैं।
महिला किसान मुनियाँ अपनी खराब फसल के साथ तहसील पर आई हैं उनका कहना है कि साड़ी फसल नष्ट हो गई है और अब घरों में हम दानेदाने को मोहताज़ होने लगे हैं।  आगे कैसे चलेगा यही सोच कर, यहाँ सरकार के पास मदद के लिए आये हैं।
वहीँ, शिवकली का कहना था कि हम यहाँ अपनी समस्या बताने आये हैं।  यदि यहाँ समाधान हो सका तो ठीक, वर्ना जहाँ होगा वहां जायेंगे।
किसान शंकर लाल कुशवाह कहते हैं कि सरकार के बताएं अनुसार हमने अपनी फसल को तैयार करने की कोशिश की।  सभी ने मेहनत, मजदूरी की।  खेतों में खाद दी, महंगा बीज खरीदा, कीटनाशक भी डाला लेकिन तब भी हमारी फसल चौपट हो गयी।  अब स्तिथि बेहद खराब है।  यदि अभी भी सरकार ने हमारी बात नहीं सुनी तो भूखो मरने के सिवा हमारे पास और कोई रास्ता नहीं रह जायेगा।
इस पर लेखपाल इन्द्रपाल ने कैमरे के पीछे से कहा कि उन्होंने किसानों की दरखास्त लिख ली है और जल्द ही अपनी तरफ से हर सम्भव प्रयास भी करने का आश्वासन दिया है।

वीडियो स्टोरी देखने के लिए लिंक पर क्लिक करें