फसल उजारत जानवर

अन्ना जानवरन
अन्ना जानवरन

जिला महोबा, ब्लाक चरखारी, गांव धवारी। एते के लगभग बीस किसानन ने 15 सितम्बर 2014 खा खरेला थाना में दरखास देके अन्ना जानवर बधवायें की मांग करी हे।पूरन सिंह, लक्ष्मी यादव ओर हल्कुटटा ने बताओ कि ई साल सूखा होंय के कारन पूरी खेती खाली परी हे। ऊपर से अन्ना जानवरन ने नाक में दम कर लओ हे। गजोधर ओर अग्गू बताउत हे कि हमाये गांव के लगभग साठ प्रतिशत किसानन ने खेती नई बोई, लगभग चालिस प्रतिशत किसानन ने अपनी खेती में उड़द, मूंग ओर तिली की फसल बो दई हे। जोन अन्ना जानवर के कारन नई बच पाउत आय। धरमपाल के साथे बीस आदमियन को कहब हे कि हमाये गांव के आदमी आपन गाय, बैल छोर देत हें। काय से ऊखे खेती में फसल नइयां। जीसे ऊ दूसरेन के खेती की चिंता नई करत आय। जानवर बांधे खे लाने दो दइयां हमने ओर एक दइयां प्रधान ने मुनादी कराई हे। अन्ना जानवरन से आपन खेत की फसल रखायें खे लाने रात-रात भर खेत में सोने परत हे। खरेला थाने के मुन्शी रामकिशोर सिंह सेंगर कहत हें कि गांव के आदमियन खा समझाओ जेहे, न मानहें तो कारवाही करी जेहे। प्रधान विधा के आदमी शंकर शरण ने बताओ कि अन्ना जानवर बधवायें खे लाने मेंने मुनादी कराई हती। जीमे गांव खे जानवर बांध गयें हें। जोन बाहरी जानवर हे ऊखे लाने काजी हाउस की वयवस्था नइयां।