फर्जी भरत हौं पानी सप्लाई का बिल

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी, कस्बा बदौसा, खटकन मोहल्ला। हेंया का राजाराम पानी का फर्जी बिल आवैं से परेशान है। वा सितंबर अउर अक्टूबर 2014 मा अतर्रा तहसील दिवस मा कइयौ दरखास दइके कनेक्शन कटावैं के मांग करिस है।
राजाराम बतावत है-“मैं 14 साल पहिले सप्लाई वाले पानी का कनेक्शन लीने रहौं। सात साल तक पानी आवा अउर मैं बराबर बिल भी जमा करेंव। अब छह साल होइगे मोरे घर मा पानी नहीं आवत। कनेक्शन खराब होइगा है, पै बिल दुई साल सेे बराबर आवत है। छह महीना का तेरह सौ रूपिया बिल भरे रहौं। अब अगस्त 2014 मा फेर से चैबिस सौ रूपिया बिल आवा है, तौ तेरह सौ बीस रूपिया भरे हौं बांकी पड़ा है। गरीब मड़ई बिना पानी लीने फर्जी बिल कहां तक भरव। यहिसे सोचत हौं कि मोर कनेक्शन कट जाय तौ नींक है।
अतर्रा जल संस्थान के जेई संस्करण चैबे कहत हैं कि कनेक्शन लीने हैं, तौ बिल जई। पानी राजाराम के घर पहुंचै या नहीं। वहिका कनेक्शन खरेाब है या जानकारी हमका नहीं रही आय। अगर वहिका बिल नहीं भरैं का आय तौ कनेक्शन कटवा दे।