प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सौभाग्य योजना पन्ना जिले के लिए बनती जा रही है एक दुर्भाग्य

सौभाग्य योजना सितम्बर 2017 में लागू की गई थी। सरकार द्वारा उसके तहत गरीबों को मुफ्त बिजली कनेक्शन दिए गये, किन्तु पन्ना जिले में कुछ और ही स्थिति है। एक महिला के पास बिजली का कनेक्शन नहीं है फिर भी उसके पास बिल आ रहा है। वो इतनी गरीब है कि उसका बिल भर पाना नामुमकिन है, यह कैसा नियम है ?
नन्ही बाई का कहना है कि हमने कनेक्शन नहीं करवाया है। दो लोग आये थे बिजली कनेक्शन के बारें में पूंछ रहे थे फिर राशनकार्ड और आधार कार्ड देखा फिर पता नहीं क्या कर रहे थे, हम पढ़े-लिखे नहीं है कि कुछ समझ पाते। उसके बाद हमारा बिल आ गया।
अधीक्षण यंत्री एस. के. अन्धवान का कहना है कि सौभाग्य योजना के तहत आनलाइन फार्म भरे गये हैं और लोगों के घर में मीटर नहीं लगे हैं, हो सकता है उसका बिल आ गया हो।

रिपोर्टर- चंदा

Published on Mar 27, 2018