प्रधानमंत्री आवास योजना के इंतज़ार में चित्रकूट जिले के कोनिया गांव निवासी

जिला चित्रकूट, ब्लाक मऊ, गांव कोनिया के मड़इन का कुछौ सरकारी सुबिधा नहीं मिलत आय। 2016 मा या गांव का लोहिया समग्र गांव घोषित कीन गा रहै।मड़इन का कहब हवै कि हमरे नाम कलोनी आई रहै पै हमें कलोनी नहीं मिली आहीं यहै कारन हम झोपड़ी बना के रहै मा मजबूर हन। सी.डी.ओ. अन्नावि दिनेश कुमार प्रधानमन्त्री आवास योजना के तहत कलोनी दे का भरोसा दिहिन हवैं।
रामकली बताइस कि जबै प्रधान मिठाई लाल रहै तबै हमार नाम कलोनी मा आवा रहै पै हमें आज तक कउनौ कलोनी नहीं मिली आय।
विजय का कहब हवै कि हम गरीबन के लगे जमीन नहीं आय। दूसरे के जमीन मा घास अउर पन्नी के झोपड़ी बना के रहित हन। कलोनी के लिस्ट मा हमार नाम रहा हवै हम वोट भी डाले जइत हन पै हमैं कलोनी नहीं मिली आय।
उमा देवी अउर प्रमिला का कहब हवै कि झोपड़ी मा पन्नी लगा के रहित हन। धोती के परदा बना लेइत हन। प्रधान कहत हवै जबै कलोनी अई तबै दीन जई।अबै तक जेत्ते प्रधान भे हवै तौ कहा हन पै कोऊ ध्यान नहीं देत आय।
सी.डी.ओ. अन्नावि दिनेश कुमार का कहब हवै कि समग्र गांव के 25-25 मड़इन का प्रधानमन्त्री आवास के तहत कलोनी दीन जई। पात्र मड़इन का सन 2022 तक आवास मिल जइहैं।

रिपोर्टर- सुनीता देवी

08/05/2017 को प्रकाशित