प्रदेश के हिस्से तेरह ट्रेनें

 

(फोटो साभार: विकिपीडिया)
(फोटो साभार: विकिपीडिया)

लखनऊ। रेल बजट में अस्सी संसदीय सीटों वाले प्रदेश के हिस्से केवल 13 ट्रेनें ही आईं। इनमें दो जनसाधारण एक्सप्रेस, एक एसी एक्सप्रेस और सात एक्सप्रेस शामिल हैं। सरकार के पहले रेल बजट को बसपा की मायावती आम जनता को मायूस करने वाला कहा। उन्होंने कहा कि रेलवे में विदेशी पूंजी निवेश और निज़ीकरण का फै़सला गलत है।

                     मायावती ने कहा

बजट के पहले ही रेल किराए में काफी इज़ाफा कर दिया गया था। बजट में रेल किराए को तेल के दामों से जोड़कर भविष्य में लगातार किराए बढ़ाए जाने का रास्ता खोल दिया है। इससे मालभाड़ा बढ़ेगा, जिससे मंहगाई भी बढ़ेगी।

                                                                                                                                                                                                   कांग्रेस नेता रीता बहुगुणा जोशी ने कहा