प्रदूषण रोकने के लिए बनाया अनोखा यंत्र

साभार: विकिमेडिया कॉमन्स

पिछले कुछ वर्षों में दुनिया और देश में वायु प्रदूषण काफी बढ़ गया है। दिल्ली में अभी भी धुंध छाई हुई है जिसके चलते 2016 को इतिहास में सबसे खराब वातावरण मापा गया है।
वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए भुवनेश्वर की छात्रा प्रियंका पांडा ने हाल ही में एक नये तरह के यंत्र का आविष्कार किया है। यह एक मोटर साइकिल के ओडोमीटर की बगल में लगाया जा सकता है और वह चालक को चेतावनी द्वारा यह बता सकता है कि वह हवा को प्रदूषित कर रहा है या नहीं।
यह चेतावनी तब देता है जब चालक द्वारा ईंधन बर्बाद करने का प्रयास किया जाता है।
प्रियंका को इस अविष्कार के लिए 6 नवंबर को राष्ट्रपति से 2016 का ‘इगनाईट’ नई खोज का पुरस्कार भी मिला। ‘इगनाईट’ एक राष्ट्रीय प्रतियोगिता है जिसमे मूल प्रौद्योगिकीय नवाचारों की प्रतियोगिता होती है जो की 17 साल से छोटे बच्चों की प्रतिभा को सराहता है।
इस रचनात्मकता को कई लोगो द्वारा सराहा गया हैं। यह अविष्कार वाहन मालिकों को प्रदूषण वे कारण बताने में मदद करेगा।
प्रियंका, स्वर्गीय राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम से प्रेरित है, वह कहती हैं “ज़्यादातर यात्री ट्रेवल करते समय रेडलाइट या कम हाल्ट पर कार का इंजन नहीं बंद करते। यह हवा और अपशिष्ट ईंधन में हानिकारक प्रदूषण को बढ़ावा देता है। मैंने उन तरीकों के बारे में सोचा जिससे यह रोका जा सकता है।”

साभार: शी द पीपल