पेड़ काटने से रोकने पर लड़की को जिंदा जलाया

साभार: विकिमीडिया कॉमन्स

जोधपुर के एक गांव में सरपंच और उसके आदमियों ने कथिततौर पर एक 20 साल की लड़की को ज़िंदा जला दिया। गांव वालों का कहना है कि पेड़ काटने की वजह से झगड़ा हुआ, जिसके बाद यह घटना हुई। मामले की रिपोर्ट थाने में दर्ज की गई है।
पुलिस के अनुसार, ललिता ने अपने खेत के पेड़ काटे जाने पर विरोध जताया था। इसके बाद झगड़ा हुआ और गांव वालों के एक समूह ने उस पर हमला कर दिया। उन्होंने लड़की पर पेट्रोल डाला और जला दिया। लड़की की अस्पताल में मौत हो गई।
पुलिस ने बताया कि वे सरपंच में लगे आरोपों की जांच कर रहे हैं।
थाना प्रभारी सुरेश चौधरी ने मीडिया को बताया, सरपंच, पटवारी और अन्य लोगों ने पेट्रोल डाल कर लड़की को जिंदा जला दिया। शव को शवगृह में रखा गया है। शीघ्र ही जांच कर आरोपियों पर कार्रवाई की जाएगी।
मीडिया खबरों के अनुसार, युवती के परिजनों ने आरोप लगाया है कि गांव में बन रही सड़क को जान-बूझकर पटवारी और कुछ लोग मिलीभगत कर उनके खेत से निकालने की कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए खेत में लगे पेड़ काटे जा रहे थे।