पुणे मैच में इंग्लैंड पर भारत की शानदार जीत

साभार: बी सी सी आई

पुणे में इंग्लैंड के खिलाफ़ पहला एक-दिवसीय मुकाबला भारत ने जीत लिया है। इसमें भारत ने इंग्लैंड को तीन विकेट से हरा दिया। पहले बल्लेबाज़ी करते हुए इंग्लैंड की टीम ने भारत के सामने 351 रन का लक्ष्य रखा था। कप्तान विराट कोहली और केदार जाधव की शतकीय पारी की बदौलत भारत ने रोमांचक मुकाबले में मैच जीत लिया।
हालांकि इंग्लैंड के 350 रनों के जवाब में भारत के शीर्षक्रम के बल्लेबाज़ लड़खड़ा गए और बहुत जल्दी ही के एल राहुल, शिखर धवन, युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी मैदान से वापस लौट गए।
कप्तान विराट कोहली ने पांचवें विकेट की साझेदारी में केदार जाधव के साथ शानदार पारी खेली। उन्होंने 105 गेंदों में 122 रन बनाए। ये उनका 27वां एक-दिवसीय शतक था। वहीं जाधव ने भी शतक जड़ा और वो 120 रन बनाकर आउट हुए। इसके बाद, निचले क्रम के बल्लेबाज़ों ने संभलकर खेला और भारत को जीत दिला दी। हार्दिक पंड्या ने 40 रनों की शानदार पारी खेली।
इससे पहले बल्लेबाज़ी करते हुए इंग्लैंड ने पुणे वनडे में भारत को 351 रनों की मुश्किल चुनौती दी। इंग्लैंड ने 50 ओवर में 7 विकेट पर 350 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया।
भारत ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने का फ़ैसला किया था। 350 रनों के स्कोर को देख लग रहा था कि कप्तान कोहली का पहले फील्डिंग करने का फ़ैसला उनके पक्ष में नहीं गया।
इंग्लैंड की पारी को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाने में बेन स्टोक्स ने काफ़ी अहम भूमिका अदा की। स्टोक्स छठे नंबर पर बैंटिंग करने आए थे और उन्होंने 40 गेंद पर 62 रनों की शानदार पारी खेली।
भारत की तरफ से पांड्या और बुमराह ने दो-दो विकेट लिए। पांड्या ने 9 ओवर की गेंदबाज़ी की और 46 रन दिए। बुमराह ने 10 ओवर की गेंदबाज़ी में दो विकेट लिए। उन्होंने 79 रन दिए। जाडेजा ने 10 ओवर गेंद फेंकी और उन्होंने 50 रन देकर एक विकेट लिया। भारत की तरफ़ से उमेश यादव काफ़ी जोरदार साबित हुए।
यादव ने 7 ओवर की गेंदबाज़ी में एक विकेट लेकर 63 रन लुटाए। इस मैच में अश्विन का जादू नहीं चला। अश्विन ने 8 ओवर की गेंदबाज़ी में बिना कोई विकेट लिए 63 रन दिए। भारत और इंग्लैंड के बीच तीन एकदिवसीय अंतराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की सिरीज़ में यह पहला मैच था।