पी.आर.डी. जवान ड्यूटी के करैं मांग

f banda tajaजिला बांदा, ब्लाक बिसण्डा। हेंया के पी.आर.डी. जवान एक साल से काम न मिलैं से परेशान हैं। आपन समस्या का लइके कतौ बांदा अशोक लाट तरे धरना धरत हैं, तौ कतौ लखनऊ समस्या सुनावैं जात हैं। उनके सुनवाई आज तक नहीं भे।
पी.आर.डी. जवान मुन्नी खां, गुनिया अउर चन्दा देवी कहत हैं कि जिला मा कुल साढ़े आठ सौ मनसवा डेढ़ सौ मेहरिया पी.आर.डी. जवान हैं जेहिमा सिर्फ इकसठ लोगन भर का काम मिलत है। सबै या नौकरी पा के रोवत हैं। काहे से सरकार हमका लगातार काम नहीं देत आय। साल भर मा एक-दुई महीना भी ड्यूटी नहीं दीन जाय। हम का दुई महीना भर ही खाब, साल भर कसत आपन खर्चा चलावन। बनी मजदूरी करैं जात हन तौ वा भी जल्दी नहीं मिलत आय। ऊपर से ताना मारा जात है कि साहब लोग बनी मजदूरी का काम भला कसत करिहैं। हम आपनमांग  का लइके बांदा अशोक लाट तरे कइयौ दरकी धरना प्रदर्शन अउर भूख हड़ताल कीने हन, पै सुनवाई नहीं होत। 14 अप्रैल 2013 का भी बांदा मा धरना करे रहन, पै समस्या मा कउनौ सुधार नहीं भा।
सी.डी.ओ. प्रमोद शर्मा कहत हैं कि पी.आर.डी. जवान का लगातार ड्यूटी मा नहीं लगावा जा सकत। या शासन का आदेश हैं। हेंया के अधिकारी भला का कई सकत हैं।