पीतल की खूबसूरती में चार चाँद लगाते कुलपहाड़, महोबा के कारीगर

जिला महोबा, क्षेत्र कुलपहाड़, पीतल की अच्छी कलाकारी और हस्तकला की बात सामने आत ही पीतल की नगरी के नाम से याद आत मुरादाबाद को नाम। लेकिन इन सब कलाकारी को देखबे आपको मुरादाबाद जाबे की जरुरत नइया। काय के महोबा के कुलपहाड़ क्षेत्र में भी सबको जा धातू को सामान देखबे मिल हे।जिला महोबा, क्षेत्र कुलपहाड़ पीतल की अच्छी कलाकारी और हस्तकला की बात सामने आत ही पीतल की नगरी के नाम से याद आत मुरादाबाद को नाम। लेकिन इन सब कलाकारी को देखबे आपको मुरादाबाद जाबे की जरुरत नइया। काय के महोबा के कुलपहाड़ क्षेत्र में भी सबको जा धातू को सामान देखबे मिल हे। इते के निवासी कल्याण सोनी और मन मोहन सोनी को परिवार जा काम को पीढ़ी दर पीढ़ी कर रए आज जा काम को मिल जुल के पूरो परिवार करत। बड़े से लेके छोटे घर की ओरते भी और सुंदर आकार बनाबे में लगी। बे जा काम में इतने होशयार हो गये के राष्ट्रपति से लेके मुख्यमंत्री तक से प्रसंसा स्वरुप पुरूस्कार मिल चुके। कल्यान सोनी ने बताई के हमे जो काम करत करत बीस साल हो गये हम पंद्रह साल के हते जब से कर रए। मनमोहन सोनी ने बताई के इते कोनऊ ज्यादा बिक्री नइया इते के बड़े बड़े शहरन में बिक्री होती। बेचबे में दिक्कत नइ होत बड़ी बड़ी मीले होती राज्य स्तर पे उनमे ज्यादा बिकती। हम चारऊ भज्जन को सम्मानित करो केऊ पुरूस्कार मिले पहलों पुरूस्कार उधोग मंत्री ने दओ दूसरो माननीय पूर्व मुख्यमंत्री अखलेश सिंह यादव ने दओ राजपाल जी ने भी दओ। सुमित्रा ने बताई के हम जा काम को दबाबो नइ चाह रए हम और आगे बड़ा बो चाह रए अपने काम को।

रिपोर्टर- श्यामकली

Published on Aug 16, 2017