पिता ने बेटे के साथ किया ग्रेजुएशन

मुबंई के एक टैक्सी ड्राइवर ने अपने बेटे के साथ स्नातक स्तर की पढ़ाई पूरी की है। जिस उम्र में लोगों जीने के लिए दो वक्त की रोटी कमाने के लगे रहे है, वहीं मोहम्मद फारूक शेख ने अपमे काम के साथ ही स्नातक की उपाधि हासिल की है।

इस टैक्सी ड्राइवर का नाम मोहम्मद फारूक शेख है। उन्होंने यशवंतराव चव्हाण ओपन यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन किया है।

अपनी इस कामयाबी पर फारूक शेख बेहद ही खुश है। मोहम्मद फारूक शेख ने कहा, “पढ़ाई करने की कोई उम्र नहीं है। मुझे खुशी है कि मैंने अपना स्नातक किया है। अध्ययन की ओर मेरा उत्साह बढ़ गया है। मुझे उम्मीद है कि मैं एमकॉम करूंगा।

उनके बेटे ने कहा,” मैं खुश हूं। मैं उसकी कठिनाइयों को हल करने में मदद करता था और उसे सिखाता था। मैं नियमित क्लासेस लेता था,  इसलिए मैं उन्हें रात में पढ़ाता था।