पानी से निपटे या बिजली से, महोबा जिले के गुर्जा का खोड़ा के लोग सोच के हैं परेशान

यहां प्राथमिक विद्यालय तक बिजली थी जब तालाब की खुदाई हुई थी तब बिजली काट दी गई थी तब से हमारे गांव में बिजली नहीं आई हैं यह कहना है महोबा जिले के गुर्जा का खोड़ा गांव के लोगों का
सोनाली ने बताया कि हम इस गांव में रहतें है लेकिन बिजली न होने के कारण कुलपहाड़ पढ़ने जाते हैं क्योंकि डिब्बी की रोशनी में पढ़ाई नहीं हो पाती हैं देवकी नन्दन ने बताया कि बिजली का कनेक्शन तो करना चाहते हैलेकिन यहां बिजली ही नहीं है सिर्फ खम्भे गड़े है पहले स्कूल तक बिजली थी अब वहां की बिजली भी काट दी गई है पांच छह साल पहले कनेक्शन की दो-दो सौ रूपये की रसीद रखी है विधायक से भी बिजली के लिए कहा है। लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई है।
कमलेश ने बताया कि यहां बिजली नहीं है इस कारण हमारे बच्चें यहां नहीं रहतें हैं जब गर्मी की छुट्टी होती है बच्चें तब भी यहां रहनें नहीं आते हैं अवधबिहारी का कहना है कि अगर यहां बिजली नहीं होगी तो आने वाली पीढ़ी की शादी नहीं होगी जो लोग लड़का देखनें आते हैं लौट जाते है कहते है कि कूलर पंखा में रहनें वाली लड़की की शादी यहां नहीं हो सकती है
अधिशाषी अभियंता ने इस समस्या के बारें में बात नहीं की है
रिपोर्टर-श्यामकली

Published on Nov 28, 2017