पानी बनल परेशानी

एही चापाकल के भरोसे हई बीस परिवार
एही चापाकल के भरोसे हई बीस परिवार

जिला शिवहर, प्रखण्ड तरियानी, गांव सलेमपुर, वार्ड नम्बर आठ। इहां सरकारी चापाकल हई ओई पर चबूतरा भी बनल हई। लेकिन सड़क से निच होये के कारण कादों से भरल रहई छई।

इहां के रामजन्म राउत, बचनी देवी, पार्वती देवी कहलथिन कि इ सड़क से सुमहुती के तरफ जाई छई से लगभग आठ साल पहिले बनलई। ओई हिसाब से इ चापाकल सही रहलईह। लेकिन इ सड़क जे छाता से होके सलेमपुर मुख्य सड़क तक जाई छई। उ लगभग दु साल पहिले बनलई जे चापाकल से लगभग बीस इंच ऊंच हई। एही कारण एई चापाकल पर वर्षा की उबेरी में भी कादों-कादों रहई छई। ऐई तर के बीस घर एई चापाकल से सुख करई छथिन। मुखिया भी कुछ न कयलन। वोट के समय सब हाथ जोड़े अबई छथिन जब जीत जाई छथिन त देखे भी न अबई छथिन।
मुखिया नाजो खातून के पति अमीन अंसारी कहलथिन कि हम जाके देखवायब। प्रखण्ड विकास पदाधिकारी साह रजा हुसैन कहलथिन कि अगर सड़क निच हई, ओई चापाकल के उंचा करे के जरुरत हई या नाली बनावे के हई एई के लेल ग्राम पंचायत स्वतंत्र छथिन। मुखिया ग्राम सभा में योजना पारित कर के बनवा सकई छथिन।