पानी खातिर परेशान

बांदा शहर के नोनिया मुहल्ला मा बतावत समस्या
बांदा शहर के नोनिया मुहल्ला मा बतावत समस्या

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी, कस्बा बरछा बा अउर बबेरू ब्लाक का गांव साकर। हेंया के गांवन मा या समय पानी नहीं आवत आय। हजारन मड़इन का या समस्या से जूझै का परत है। कइयौ बार जल संस्थान मा सूचना दीन गे है, पै कउनौ ध्यान नहीं दीन जात है।
नरैनी ब्लाक का गांव बरछा बा का मुन्ना अउर उमाशंकर वेद प्रकाश का कहब है कि दुई महीना से हमरे गांव मा पानी समय से नहीं आवत है। सौ कनेक्शन है तीन महीना का साड़े तीन सौ रूपिया पानी का बिल आवा है। हम एक हजार रूपिया चन्दा कइके टैंकर मा पानी पियैं खातिर मंगावत हैं। हमार ध्यान कउनौ नहीं देत आय। कब तक टैंकर का पानी मंगावा जई। अतर्रा जल कल विभाग का जेई शशि कांत चैबे का कहब है कि हमका या समस्या के बारे मा पता है, पै बिजली कम आवत है। या कारन पानी नहीं आ पावत आय।
बांदा शहर का नोनिया मोहाल मरही माता मंदिर हेंया के गीता, मीरा का कहब है कि ढाई महीना से पूर मुहल्ला मा पानी न आवैं से लड़का बिटियन का केन नदी नहायें जायें का परत हें। पियैं खातिर पानी लें दुई किलो मीट दूर साइकिल लें जायें का परत है।
जल संस्थान के अधिशाषी अभियन्ता इंजीनियर विजय बहादुर का कहब है कि नोनिया मोहल्ला मा अब सुबेरे से पानी चलावा जई। 4 जून 2014 से शुरू होई गा है। बम्बेश्वर पहाड़ से पानी आवा करी।
बबेरू ब्लाक का गांव सातर। हेंया सन 1980 मा बनी टंकी मा पानी के सप्लाई नहीं होत है। राकेश, गोपाल, शरन का कहब है कि पानी बिना बसर नहीं होत आय।
सेालहवीं शाखा जल निगम के अधिशाषी अभियन्ता गिरीश चन्द्र का कहब है कि या गांव का सहायक अभियन्ता देख है। अगर इनतान के समस्या है तौ जांच कराई जई।