पागल होय को बहाना कर घर से निकार दओ

हेमलता
हेमलता

जिला महोबा, ब्लाक पनवाड़ी, गांव महोबकंठ। एते की हेमलता की शादी 8 जुलाई 2010 में महोबा जिला के बागौर गांव के बृजेन्द्र के साथे भई हती। जीमें अब ससुराल वालेन ने तबियत खराब होय के कारन ससुराल से भगा दओ हे। जीसे परिवार के आदमी बोहतई परेशान हें।
हेमलता की मताई गीता ने बताओ कि मेंने अपनी बिटिया हेमलता की शादी 8 जुलाई 2010 में बागौर गांव के बृजेन्द्र के साथे करी हती। जीसे ससुराल वालेन ने चार साल पेहले कम दहेज देय ओर पागल होय को बहाना करके घर में निकार दओ हतो। जभे कि हमने दहेज में कर्जा लेके मोटर साइकिल दई हती, पे अब ऊ हेमलता खा लिवाउन नई आउत हें। जभे कि हम कहत हें कि अगर हेमलता पागल हे तो दूसर बिटिया की शादी कर देबी, पे ऊ नई मानत हें। मोये छह बिटिया हें ओर मोओ आदमी भी एक महीना पेहले खत्म हो गओ हे। एई से लागत हे कि अब में आपन परिवार केसे पालहों। बृजेन्द्र हेमलता खा निवा जाये या कोनऊ बिटिया से शादी कर लेय। जीसे मोये सिर को भार कम हो जाये, पे बृजेन्द्र ओर ऊखे परिवार वाले कोनऊ बात सुने खा तैयार नइयां।
हेमलता को आदमी बृजेन्द्र से बात करी गई, पे ब्रजेन्द्र ने कोनऊ भी बात करे से साफ शब्दन में मना कर दओ।