पांच साल बीते के बाद भी नई बनी सड़क

M gavजिला महोबा, ब्लाक चरखारी क्षेत्र के अलग अलग गांव के आदमी आज भी रास्ता बिना निकरें खा मजदूर हे। रास्ता नवायें के लाने पांच साल बीते के बाद भी हाथ में नई आओ बजट।
गांव बम्हौरी कलां एते के कालीचरन, बलवान ओर लखन बताउत हे कि 2012 में जा सड़क प्रधान ने बनवई हती। अच्छो मसाला न होंय के कारन जल्दी उखड़ गई हे। घरन को पूरो पानी रास्ता में भरो रहत हे। जीसे मच्छर लगत हे, गन्दगी बनी रहत हे, प्रधान भी नई सुनत हे। द्वारे में बच्चा खेल नई पाउत हे।
प्रधान बालकिशन कहत हे कि 2012 में मेने सड़क बनवाई हती अब उखड़ गई तो में का कर सकत हों, बजट भी नइयां। एसई गांव अकठौहां खेतसिंह, रामाधार यादव, राजू धोबी ओर रतिराम धोबी कहत हे कि दो सौ मीटर सड़क खराब परी हे, रास्ता में बारऊ महीना गिलाव रहत हे। गिलाओ के हमाये गाड़ी बैल भी द्वारे तक नई आ पाउत हे। हमें सिर में धरके सामान घर ले जाने परत हे।
प्रधान पाना देवी बताउत हे चार सड़के मेने बनवा दई हे। अब माये पास बजट नइयां जीसे ऊ रास्ता बनवाई जा सके।