पहले विकास बाद में वोट

03-04-14 Kshetriya - Karvi Chunaavजिला चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुर, कस्बा मारकुण्डी, पुरवा किहुनिया। यहां लगभग पांच हजार की आबादी हैं। तीन पीढी़ से यहां कोई विकास नहीं है। लेकिन वोट लेने नेता हाथ जोड़कर आते हैं। लोग इतना नाराज़ हैं कि वोट देने के लिये भी तैयार नहीं है।
पुरवा के विजय, भोला ओेर चुनका समेत दस लोगों का कहना है कि यहां नाली, सड़क पानी और बिजली जैसे कि समस्यायें हैं। समस्याओं को खतम करने के लिये किसी भी पार्टी के नेता ने कभी भी कोषिष नहंी की। चुनाव के समय रोज नेता आते हैं भरोसा देकर चले जाते है। विधायकी का चुनाव हुआ था तब भी हम लोगों ने वोट नहीं डाले थे। अबकी बार लोकसभा चुनाव में भी वोट नहीं देना है। समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष अनुज सिंह यादव का कहना कि अगर पार्टी जीत जायेगी तो वादा है कि किहुनिया पुरवा में विकास ज़रूर किया जायेगा।