पहला वोट पहले प्यार की तरह भुलाया नहीं जा सकता,मिलिए बुंदेलखंड के पहले मतदाता से

जिला चित्रकूट, बांदा और महोबा। नगर निकाय के चुनाव होनें वालें है लोग वोट डालने के लिए खुश भी है हमनें कुछ ऐसे लोगों से बात की है जो पहली बार वोट डालने जा रहें हैंआइये जानते है लोगों से की वोट डालने के बारें में क्या सोंचते हैं जिला महोबा के कस्बा कुलपहाड़ के अभिषेक यादव का कहना है कि मशीन से वोट डालने में गड़बड़ी हो जाती है वैलेट पेपर से वोट डालने पर किसी पार्टी के साथ मतभेद नहीं होगा वैलेट पेपर से वोट नहीं डाले जायेगें तो मैं वोट नहीं डालूंगा जो दागदार न हो न जाति के साथ मतभेद और पक्षपात न करता हो और जो जनता के हित में काम करता हो हम ऐसा उम्मीदवार चाहते हैं
अंजुमन मंसूरी ने बताया कि जो समझदार पढ़ा लिखा और हमारे गांव का विकास कर सके ऐसे उम्मीदवार को चुनना चाहते है क्योंकि गांव बहुत पिछड़ा है अर्शी रबी ने बताया कि पिछड़े हुए इलाकों में शिक्षा का विकास नहीं है उम्मीदवार ऐसा हो जो बिजली,पानी,सड़क जैसी समस्या दूर कर सके
जिला चित्रकूट कर्वी कस्बा की स्वाती सिंह का कहना है कि हमारा एक-एक वोट बहुत कीमती है आसपास के लोगों को जागरूक करना चाहियें की सबको वोट देना चाहिये क्योंकि एक वोट की वजह अच्छे उम्मीदवार हार जातें है
बांदा जिला के कस्बा नरैनी की पूजा का कहना है कि मैं मायावती को वोट देना चाहती हूं क्योंकि मायावती गरीब लोगों की सहायता करती हैं
बाईलाइन-खबर लहरिया ब्यूरों

Published on Nov 20, 2017