गांव परिसीमन को लेकर लोगों में हलचल

Banda_city_Railway_Station,_Uttar_Pradeshजिला बांदा। ग्राम पंचायतों के पुर्नगठन (परिसीमन) कहीं के लोग खुश हैं तो कहीं के लोग बहुत नाराज़ हैं। नाराज़ लोगों ने पंचायतीराज अधिकारी को दरखास दी है।
जिला बांदा, ब्लाक बड़ोखर खुर्द, ग्राम पंचायत इटवां। अपने आप में इटवां और करछा दो ग्राम पंचायतें अलग-अलग थीं। इनको जोड़कर एक ग्रांम पंचायत बनाने से इटवां के लोग बहुत गुस्सा हैं। लोगों के अनुसार कई प्रशासनिक सम्बन्धित काम करवाने तीन किलोमीटर करछा गांव जाना पडे़गा। लगभग चालीस लोगों ने 14 नवम्बर को दरखास दी।
तिंदवारी ब्लाक के खजुरी गांव से दो ट्रैक्टर लोग भर कर ब्लाक में दरखास देने आये थे कि तारा ग्राम पंचायत के खजुरी और दोहतरा को मिलाकर ग्राम पंचायत बनाई जाए क्योंकि दोनों ही गांवों में विकास का काम नहीं हुआ है।
ब्लाक बबेरू की ग्राम पंचायत हरदौली के राम प्रताप बिहारी कहते हैं कि इस पंचायत के मजरे गौरी खानपुर को ग्राम पंचायत बनाया जाए क्योंकि यहां की आबादी अपने आप में दो हजार पांच सौ है।
डी.पी.आर.ओ. रणधीर सिंह का कहना है कि गांवों से जो आपत्तियां आती जा रही हैं उनको निपटाया जा रहा है। 2015 मे बनी नई ग्राम पंचायतों में प्रधान का चुनाव होगा।