पचासन साल पुरान नहर, पानी का तरसै

बीस साल पुरान नहर, कतौ नहीं मिला पानी
बीस साल पुरान नहर, कतौ नहीं मिला पानी

हेंया लगभग पचास साल पुरान केन पम्प कैनाल बांदा ब्रांच टेल है। वा नहर मा किसानन के सिंचाई खातिर पानी कतौ नहीं मिलत आय। सरकारी कागज भर मा नहर चलत है।
जमालपुर गांव के किसान शिवराम विश्वकर्मा अउर ब्रजमोहन कहत हैं-“ नहर का पानी हमरे गांव तक कतौ नहीं आ पावत आय। महोखर गांव मा होंआ के किसान बांध लेत हैं।”
चन्द्रिका प्रसाद बतावत है कि हमरे गांव मा चार सरकारी ट्यूवबेल हैं जेहिमा से 111 नम्बर अउर 129 नम्बर रिबोर लाइक हैं। 51 अउर 57 चालूत हैं। गांव मा साढ़े छह हजार बीघा जमीन है, पै सौ मा दस प्रतिशत जमीन ही सिंचित है। सिंचाई करैं का साधन तौ है, पै नहर विभाग के लापरवाही से पानी नहीं मिल पावत आय।
केन नहर प्रखण्ड के सहायक अभियन्ता हबीबुल्लाह अउर जेई गरूण देव विश्वकर्मा कहत हैं कि चिल्ला रोड क्रासिंग के पास जल निगम एक पाइप डालिस रहै। यहिसे वा नहर कइत का पाइप कट गा रहै। या मारे अब होंआ पक्की दीवाल बनवावत हन जेहिसे पानी हेंया होंआ न जा के सीधे टेल तक जाय लागै।