न मिलल ट्राईसाईकिल

रामचंद्र सिंह कुशवाहा
रामचंद्र सिंह कुशवाहा

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड बथनाहा, पंचायत रूपौली रूपहरा, गांव टंडसपुर, वार्ड नम्बर तीन। इहां के रामचंद्र सिंह कुशवाहा के दहिना पैर 2005 में ट्रेन से कट गेलई। लेकिन अभी तक उनका न ट्राईसाईकिल अउर न कोई सरकारी सुविधा मिलई छई। जबकि उनकर उम्र लगभग अस्सी साल हई।
रामचंद्र सिंह कहलथिन कि हमर एक साथी दिल्ली में रहईत रहलक उ हमरा कहलथिन कि इहां घुमे आउ। हम दिल्ली जाईत रहली त उतराखण्ड में तुरखी स्टेशन पर पानी ला उतरली। हमर पैर ट्रेन के चक्का में फस गेल जईसे हमर पैर कट गेल। दोस्त से मिल भी न सकली। घटना इधर से जाये में हो गेल भगवान के दया से बच गेली। लेकिन हमर जिन्दगी खराब हो गेल। कोई बेटो खाना न देईय अउर न कोनो सरकारी सुविधा मिलईय। कतेक बेर आवेदन देली लेकिन सब नाम काट देईय अउर हमर नाम ए.पी.एल. में कर देलक।
मुखिया श्रीकांत उर्फ बब्लू कुमार सिंह कहलथिन कि आवेदन करथिन तब ट्राईसाईकिल मिलतई। प्रखण्ड विकास पदाधिकारी रजत किशोर सिंह कहलथिन कि ट्राईसाईकिल के आवेदन जमा हो रहल हई। जब सब आवेदन जमा हो जतई त सुचि बनायल जतई। ओई के बाद ट्राईसाईकिल वितरण कयल जतई।