न मंदिर की राह और न श्मशान घाट का रास्ता! ये हाल है चित्रकूट जिले के गाहुर गांव का