नीतीश ने तोड़ा भाजपा से नाता

 

Desh Videsh - Nitish Kumarदिल्ली। (जदयू) ने  16 जून को भाजपा प्रमुख गठबंधन राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से संबंध तोड़ दिया है। भाजपा और जदयू का पिछले 17 सालों से गठबंधन था। जदयू ने ऐसा गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को भाजपा द्वारा राष्ट्रीय चुनाव प्रचार समिति का संयोजक बनाए जाने के विरोध में किया है। गठबंधन खत्म करने के बाद विहार के मुख्यमंत्री और जदयू के वरिश्ठ नेता नीतीश कुमार ने बिहार विधानसभा में 19 जून को विश्वास मत पा लिया है।
भाजपा ने जदयू के पार्टी से संबंध खत्म करने पर इसे विश्वासघात बताया। उधर जदयू ने कहा कि पिछले 7 महीने से भाजपा के भीतर अव्यवस्था बढ़ती जा रही थी। जिसकी वजह से उन्हें गठबंधन तोड़ना पड़ा।
राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग)
राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन एक राजनीतिक गठबंधन है। 1998 में भाजपा के साथ अन्य 12 दलों ने मिलकर इसकी शुरुआत की थी। उस समय भाजपा का नेतृत्व पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी कर रहे थे। हालांकि इस बीच कई दल जुड़े और कई दल इससे टूटे। वर्तमान में जदयू के राजग से संबंध तोड़ने के बाद अब इस गठबंधन में केवल तीन दल बचे हैं।