नींक व्यस्था साथै निपट गे मतगणना

banda chunav photoपंचायतीराज चुनाव के त्रिस्तरीय चुनाव के मतगणना नींकतान से निपट गे। पै मतगणना का समय आठ बजे सुबेरे शुरु होय के बजाय ग्यारह बजे शुरु भा रहै।
यहिसे उम्मीदवार अउर उनके साथी हिंया हुआँ  घूमत रहै। का अधिकारिन का अपने समय अउर नियम से मतगणना करै के कउनौ चिंता नहीं रही आय। या फेर लापरवाही से काम करै के आदत बन गे हवै।
दूसर कइती अगर देखा गा कि पुलिस प्रशासन काफी सरगर्मी से आपन डियूटी पूर करिस हवै। या साफ पता चलत हवै कि चित्रकूट के पांचै ब्लाकन मा बहुतै अच्छी खासी नींक व्यवस्था रही हवै। यहै कारन हवै कि कत्तौ कउनौ घटना नहीं घट सकी हवै। या बहुतै सराहनीय काम पुलिस प्रशासन का हवै।
दूसर कइती तुरतै चुनाव का नतीजा सउहें आवैं के बाद चित्रकूट अउर मध्य प्रदेश के जिला मा आतंक फैलावैं वाला चुन्नी पटेल का मध्य प्रदेश पुलिस मार गिराइस हवै। यहिसे चित्रकूट मा मड़इन का एक बड़े डाकू से छुटकारा मिल गा हवै। पै या भी बात सही आय कि एक डाकू मरत हवै तोै दूसर डाकू के गैंग तुरतै तैयार होइ जात हवै। या डाकुअन का सिलसिला चित्रकूट जिला से खतम होय का नाम नहीं आवत। एक डाकू मरा तौ दूसर डाकू के गैंग तैयार। येत्ता सही भा कि डाकू चुनाव के समय आतंक नहीं मचाइन हवैं। नहीं तौ जतना अपने मन के उम्मीदवार का न चुन सकत। पुलिस प्रशासन का हर समय यहिनतान नींक व्यवस्था चुनाव अउर बांकी के समय बनाये राखै के जरुरत हवै।