नाली का गंदा पानी आवत हैण्डपम्प मा

बनकट गांव के गाली
बनकट गांव के गाली

जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, गांव बनकट, मुहल्ला मुलायमनगर। हिंया के देवमनी, बबलू, गयादीन, दीपू समेत दस लोगन का कहब हवै कि घरन का गन्दा पानी नाली टूटै से मड़इन के जमीन मा भरत हवै। या कारन गन्दा पानी हैण्डपम्प के पानी का दूषित कर देत हवै। यहै से बदबूदार पानी हैण्डपम्प से निकरत हवैं।
देवमनी बताइस कि मोर घर के बगल से दुसरे मड़इन का जमीन खरीद परा हवै। वही मा मड़इन के घरन का गन्दा पानी नाली टूटी होय से जमीन मा भरत हवै। या कारन हमरे हैण्डपम्प के पानी मा वा पानी का स्रोत हवै। यहै से गन्दा पानी हैण्डपम्प से निकरत हवैं बरसात का पानी अबै तक मा सूख जात नाली के पानी से वहिमा बारह महीना पानी भरा रहत हवै। यहै से प्रधान नत्थू से कइयौ दरकी कहे हवै तौ वा नाली बनवाये का भरोसा देत हवै। अबै तक बनवाये के लगे नहीं जात हवै। एक बरस होइगें हवै। प्रधान नत्थू का कबह हवै कि जबै मोहिका पता चला रहे तौ सफाई कर्मी भेज के सफाई करवाये रहौं। चुनाव के बाद नाली बनवा दीन जई।
यहिनतान दूसर समस्या ब्लाक मऊ, गांव तुर्गवां मजरा मडहा। हिंया के आबादी दुइ सौ के हवै। दस बरस से नाली आर.सी.सी सड़क आधा किलो मीटर नहीं बनी आय। या कारन हैण्डपम्प का पानी पूर रास्ता मा फइलत हवै। यहै से आवै जाये मा बहुतै परेशानी होत हवै। प्रधान से कहित हन तौ वा सुनत नहीं आय। वस्सुदेवी, सोहनी, श्यामकली समेत दस लोगन का कहब हवै कि सड़क अउर नाली ना बनै से सबै मड़ई परेशान रहत हवैं। हैण्डपम्प का पानी पूर रास्ता मा होत हवै तौ मड़इन का गोड़ कांदौ मा घुस जात हवै। प्रधान शिवकुमारी से कइयौ दरकी कहा गा, पै वा ध्यान नहीं देत आय।
प्रधान शिवकुमारी का मनसवा शिवलाल का कहब हवै कि चुनाव के बाद नाली अउर सड़क बनवावा जई।