नाला के पानी से गिर सकत हे घर

महोबा शहर, मकनिया पुरा मोहल्ला। एते से निकरे वाले तीसन साल पुरानो नाला में

गफ्फार अंसारी
गफ्फार अंसारी

हाल में नगर पालिका महोबा ने कच्चा ओर खुलो नाले में केऊ मोहल्लन को पानी डार दओ हे। जीसे मोहल्ला में बने कच्चे घर गिरे की कगार में हें। एई से ऊ ओते के पानी खे व्यवस्था कराये खे लाने लगभग पन्द्रह दिन पेहले महोबा तहसील में दरखास दई हती, पे अभे तक कोनऊ कारवाही नई भई आय।
कस्बे के गफ्फार अंसारी ने बताओ कि मोओ घर मकनिया पुरा मोहल्ला में इण्डेन गैस एजेन्सी के एते लगभग अस्सी साल से हे। अभे पिछले महीनन में नगर पालिका महोबा ने बड़ी हाट ओर हवेली दरवाजा मोहल्लन की नालियन को पानी ओई नाली में डरवा दओ हे। जभे कि पेहले ई मोहल्लन खा पानी हवेली दरवाजा में बनी पुलिया से निकर खे समदनगर मोहल्ला केती जात हतो। जभे से सब मोहल्लन खा पानी हमाये एते की छोटी नाली में गिराओ गओ हे। तभे से इत्ती शीलन हे कि हमाये घर में धरो लाखन रूपइया को सामान बरबाद होत हे। घर तो गिरे की कगार में आ गओ हे। कभऊं भी हमाओ घर गिर सकत हे। एक दइयां घर गिर गओ हतो तो कहत हते कि मुआवजा मिलहे, पे अभे तक कछू नई मिलो आय। दुबारा हमाओ घर न गिरे एई से ईखी सूचना नगर पालिका में केऊ दइयां दई हे, पे अभे तक पानी निकारे खे कोनऊ व्यवस्था नई भई आय।
महोबा नगर पालिका के बाबू श्याम पाण्डेय ने बताओ कि मार्च के महीना सब में काम बन्द हें। एई से अभे तक कछू काम नई हो पाओ हे। अब जेई अनुराग वर्मा खा आदेशित करो जेहे, ओर जेसी स्थिति पाई जेहे ऊसई पानी निकारे खे व्यवस्था करी जेहे।