नहर मा पानी छोड़ा जाये

DSC09489जिला चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुर, गांव मदना, पुरवा नया चंद्रा अउर पंवारी। हिंया के किसान कहिन कि ओेहन नहर एक महीना से सूख हवै।
पुरवा नया चंद्रा के रामसंवारे का कहब हवै कि दुइ बिगहा जमीन मा गेहूं अउर चना बोये हौं। ओहन नहर मा पानी नहीं आय कि सिंचाई कइ सकौं।
पंवारी पुरवा के लखना कहिस कि चार बिगहा जमीन मा गेहूं, चना अउर सरसों बोये हौं। यहिमा पानी के सिंचाई करैं का परत हवै। अगर खेती सूख जई तौ घर का खर्चा कसत चली?
यहिनतान बचोली का कहब हवै कि चार बिगहा जमीन मा गेहूं बोये हौं। बिना पानी के सूखै के कगार मा हवै।
पुरवा के गुड्डू का कहब हवै कि  बीज अउर खाद का रूपिया भी न निकरी मड़इन से कर्जा लइके बीज खाद खेत मा डारे हौं। अगर ओहन नहर मा पानी रहै तौ नींक होइ। ओहन नहर मा पानी छोड़ै खातिर 15 जनवरी का कर्वी सिंचाई विभाग मा लिखित दरखास दीने हन।
कर्वी सिंचाई विभाग के बाबू देवेन्द्र कुमार कहिन कि ओहन नहर मा मई के महीना मा पानी छोड़ा गा रहै। अगर नहर मा पानी नहीं आय तौ 1 फरवरी तक पानी छोड़वा दीन जई।