नहर मा कूड़ा का ढेर, सफाई अउर पानी के राह देखत नहर

चित्रकूट जिला, मानिकपुर, गांव मदना मा नहर लगभग तीन साल से सुखान परी हवै। अगर या नहर मा पानी भर जाये तौ दस हजार किसानन का सिंचाई करै के सुविधा मिल सकत हवैं।
अगरहुंण्ड़ा गांव के मोहन, संतोष का कहब हवै कि एक कइती सूखा पर गा हवै। दूसर कइती नहर मा पानी नहीं रहत आय। यहिसे हमार खेती मा या सल कउनौ फसल नींंक नहीं होत हवैं। हम लोग खेती किसानी कइके अपने परिवार वालेन का पेट भरित हन। या समय हमरे घरन मा खाय का नहीं आय। महंगाई इनतान के हवै। हम लोगन का गल्ला खरीदै मा पसीना आवत हवै।
मदना गांव के रानी अउर दिनेश का कहब हवै कि हिंया हनर हवै। वा सुखान हवै। मड़ई वा सुखा नहर मा कूड़ा कचरा डार देत हवैं। यहिसे गंदगी भरी हवै। अगर नहर के सफाई होइ जाये तौ अउर पानी भर दीन जाये तौ हम किसानन का सिंचाई का सहारा होइ सकत हवैं।
कर्वी सिंचाई विभाग के बाबू डेविड कहिन कि जिला मा पानी के समस्या हवै। पानी नहीं आय यहिसे नहर मा पानी नहीं आय।

रिपोर्टर – सहोद्रा देवी