नरैनी तहसील के रजिस्ट्री कार्यालय में हो रही धांधली, वकीलों ने की जाँच की मांग

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी के वकील रजिस्ट्री आफिस मा धांधली का आरोप लगाइन है। वकीलन का आरोप है कि प्राइवेट कर्मचारी मड़इन से मनमाना रुपिया वसूलत हैं, यहै कारन 5 फरवरी का हम एस. डी. एम. का ज्ञापन दइके जांच के मांग करे हन।
वकील सुनील का कहब है कि रजिस्ट्री कार्यालय के अरुण निगम भ्रस्टाचार करत है अउर मड़इन से एक दस्तावेज़ के एक हमार रुपिया कमीशन मांगत है। मड़इन से कहत है कि आपन वकील का चार सौ से ज्यादा फीस न दीनेव। इनतान मा मोर नुकसान होइगा है। रजिस्ट्री कार्यालय का कर्मचारी कन्हैया आपन अलग से कमीशन मांगत है। अधिवक्ता संघ के सचिव उमाकांत का कहब है कि हुंवा पहिले प्राइवेट कर्मचारी से रुपिया तय करावा जात है, फेर रजिस्ट्री करावा जात है नहीं तौ लउटा दीन जात है। एक रजिस्ट्री करे मा एक हजार से लइके पन्द्रह सौ रुपिया लेत है। कत्तौ कम्पूटर के नाम से तौ कत्तौ चाय- नाश्ता के नाम से रुपिया लीन जात है। सुधीर कुमार का कहब है कि रजिस्ट्री कार्यालय के कइयौ दरकी शिकायत कीन गे है पै कारवाही नहीं होत आय। वकील जितेन्द्र मिश्रा का कहब है कि कम्पूटर के नाम से साढ़े तीन सौ रुपिया लेत है अउर मड़इन का बहकावत हैं कि वकील के लगे न जाओ।
सब रजिस्टार माला सिंह का कहब है कि हेंया कउनौ घूंसखोरी नहीं होत आय। कोर्ट फीस बस लीन जात है। हेंया कउनौ प्राइवेट मड़ई नहीं आय, हम खुद काम करित है पै बाहर का होत है, या हम नहीं जानित आय।
एस. डी. एम. राकेश कुमार का कहब है कि यहिके जांच तहसीलदार से कराई जात है। जांच के बाद कारवाही कीन जई।

रिपोर्टर- गीता देवी

Published on Feb 12, 2018