नरैनी तहसील का ग्रामीण न्यायालय बनवावैं के मांग

 

जिला बांदा। हेंया केे सबसे पुरान तहसील नरैनी का ग्रामीण न्यायालय का दर्जा देवावैं खातिर हेंया के वकील कइयौ सालन से संघर्ष करत आय। आखिरकार उनके मेहनत अउर लगन मा उत्तर प्रदेष सरकार ग्रामीण न्यायालय खोलावैं का आदेष कइ ही दिहिस। यहिके खातिर 4 जनवरी 2016 का द्वितीय अपर अउर सत्र
न्यायाधीष संजय सिंह न्यायालय अउर आवास के व्यवस्था खातिर निरीक्षण करैं आय अउर अधिवक्ता हाल मा न्यायालय खैले जाय अउर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मा खाली परे आवासन मा पीठासीन अधिकारी के रहैं का चयन करिन हैं।
नरैनी तहसील के वकील चन्द्रदत्त त्रिपाठी, अध्यक्ष ष्याम बिहारी का कहब हवै कि उंई कइयौ साल से ग्रामीण न्यायालय के मांग उत्तर प्रदेष सरकार से करत रहैं, पै उनका भरोसा के अलावा कुछ न मिलत रहै।
अब जा के बहुतै मसक्कत के बाद षासन स्तर से 92 ग्रामीण न्यायालय खोलैं के मंजूरी मिली है। इं 92 ग्रामीण न्यायालय मा बांदा जिला का नरैनी तहसील अउर चित्रकूट जिला का मानिकपुर तहसील शामिल हैं। जेहिका काम जल्दी षुरू होई। यहिसे हम लोगन का बहुतै खुशी है कि लोगन के समय अउर पइसा दूनौ के बचत होई।