नरैनी कोतवाली के ऊपर मनमानी का आरोप

b nalkoop sankya 1जिला बांदा, ब्लाक महुआ, गांव पनगरा। हेंया का मुन्ना अउर वहिकर परिवार 8 दिसंबर का एस.पी. आर पी. पाण्डेय का दरखासदइके नरैनी कोतवाली पुलिस द्वारा मनमननी ढंग से रपट लिखै अउर आगे कड़ी कारवाही के मांग करिन। एस.पी. कारवाही का भरोसा दिहिन हैं।
मुन्ना का कहब है-“7 नवम्बर का मोर भाई बबली उम्र साठ साल रात आठ बजे माल बेच के आवा रहै। ढाई लाख रूपिया लीने रहै। भूरी नाम के औरत अउर वहिके लड़की विमला आई अउर भाई का तमंचा लगा लिहिन अउर रूपिया छीन लिहिन। छीना झपटी देख औरत का मनसवा मुनुवा अपने साथै लखन,बुद्वराज,बददू का कुल्हाड़ा लाठी डण्डा से लैस कइके लावा। भई के साथै बहुतै मारपीट करिन अउर पीछे से सिर मा कुल्हाड़ा मार दिहिन। वहिका अस्पताल लई जाय का इलाज के दौरान मउत होइगे। 8 नवम्बर का नरैनी थाना मा धारा 323 (मारपीट) 504 गाली गलौज 506 (जान से मारैं के धमकी के रपट लिख गे है। पुलिस अबै तक या मामला मा कुछ नहीं करिस आय। हम आपन मामला मा भाई के मउत होय मा धारा बढ़ावैं के मांग करित हन। तबै भी पुलिस नहीं सुनत। उल्टा हमैं डंट के भगा देत है।”
एस.पी. आर.पी. पाण्डेय मौके मा नरैनी कोतवाली का फोन कइके उचित कारवाही का आदेश दिहिन। साथै कहिन कि अबै बिसरा लखनऊ भेजा गा है। बिसरा रिपोर्ट आवैं के बाद कारवही कीन जई।
मुनुवा, लखन,बुद्वराज,बददू,भूरी अउर विमला मौके मा नहीं मिले। परिवार के लोग कुछ बतावैं से मना करिन।