नईं देत खाना खर्चा, केसे हो हे गुजारा

m mahila mudda khabr photoजिला महोबा, ब्लाक चरखारी, गांव बेलदारन बम्हौरी। एते के गंगादेवी को आरोप हे की ससुराल वालेन ने धोखे से अने पागल लड़का के साथे मोई शादी करा दई हती। अब मोये एक चार साल को लड़का हे। जीखो खाना खर्चा नईं देत हे। में अने मायके रेह के आपन ओर ओर आपने बच्चे को परिवार पालत हों।
गंगादेवी कहत हे की पांच साल पेहले मोई शादी बांदा जिला के मोहन पुरूवा के रामनरेश पुत्र जिलेदार के साथे भई हती। ससुराल वालेन ने धोखे से मोये साथे शादी करा दई हती। जभे मे ससुराल गई तो जा बात पता चली की रामनरेश पागल हे। ससुर जिलेदार नौकरी करत हे तो पूरे खाना खर्चा की जिम्मेंदारी ले लई हतो। कहत हतो की तोये ओर तोये बच्चन के खाना खर्चा को में रूपइया देहों। अब ससूर रिटायरमेंट हो गओ हे। ससुराल वाले लड़ाई करत हते। मोये चार साल को एक लड़का भी हे। आदमी पागल हे, तीन साल से मायके में रहत हों। ससुराल वाले खाना खर्चा नईं देत हें। ससुर जिलेदार कहत हे की मेने गंगादेवी के लड़का के नाम एक लाख् रुपइया जमा कर दओ हे। गंगादेवी कहत हे की मोये रुपइया दे मे हम नईं देत हे जभे की खाना खर्चा पूरो दओ हे।