देश में थमा नहीं नस्लभेद – पूर्वोत्तर भारत के लोगों पर हमला

मंत्री किरण रिजीजू (फोटो साभार: PTI)
मंत्री किरण रिजीजू (फोटो साभार: PTI)

बेंगलुरू, कर्नाटका। 14 अक्टूबर को दक्षिण भारत के बेंगलुरू शहर में मणिपुर राज्य के माइकल हाओकिप के साथ मारपीट हुई। हाओकिप ने बताया कि वे 14 अक्टूबर की रात एक ढाबे में दो दोस्तों के साथ खाना खा रहे थे जब तीन अंजान लोगों ने उनसे बद्तमीज़ी की और कहा कि अगर वे बेंगलुरू में रहते हैं तो उन्हें वहां की कन्नड भाषा में ही बात करनी चाहिए। इसके बाद इन तीनों ने हाओकिप के साथ मारपीट भी की। हाओकिप को माथे पर पांच टांके लगे हैं, उनके दोस्तों को मामूली चोटें लगी। तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
गुड़गांव, हरियाणा। 15 अक्टूबर को दिल्ली के पास गुड़गांव में सात लोगों ने नागालैंड के दो युवकों को क्रिकेट बल्ले से मारा और एक के बाल काट दिए। दोनों को धमकी भी दी के उन्हें और पूर्वोत्तर भारत के और लोगों को अपने राज्यों में लौट जाना चाहिए। दोनों युवक अस्पताल में भर्ती हैं। पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है पर कोई गिरफ्तारी नहीं की है।
हरियाणा गृह मंत्रालय के मंत्री किरन रिजीजू, जो खुद पूर्वोत्तर भारत के अरुणाचल प्रदेश से हैं, जल्द ही नस्लभेद के ऐसे केसों के लिए खास हैल्पलाइन शुरू करने की घोषणा की।