देखिये महोबा जिले में जब डॉक्टर को नहीं मिला एम्बुलेंस तो आम जनता का क्या होगा ?

महोबा जिले में अपराधियों के हौसले बढ़ते जा रहे हैं। आये दिन कोई न कोई घटना को अंजाम देने में अपराधी सक्षम नजर आ रहे हैं। 23 जनवरी की रात ग्यारह बजे महोबा जिले के उपचिकित्सा अधिकारी आर. पी. मिश्रा को तीन अपराधियों  ने गोली मारकर घायल कर दिया। लोगों ने घायल डाक्टर को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। वहां लगे सी.सी.टी.वी. कैमरा के कारण अपराधी पकड़ गये हैं।
घायल उपचिकित्सा अधिकारी आर.पी. मिश्रा का कहना है कि तीन लोग अंदर घुस आये थे, मैं उनको रोकने की कोशिश कर रहा था। इस कारन गोली मार दी। मेरी किसी से कोई दुश्मनी नहीं है। अपराधियों का मेन मकसद लूटपाट करना था। अपराधी पच्चीस से तीस साल के थे। जब घटना हुई तो सौ नम्बर को फोन लगाया, जब वो नहीं आयें तो कोतवाली में फोन लगाया है।
एस.पी. एन. कोलांची का कहना है कि चंदु, टिंकू समेत तीन लोग बेल से एक महीनें पहले बाहर आये थे। चोरी और हत्या के मामले में पकड़े गये थे इनके पास असलहा और कारतूस भी थे। अभी इनका मुकदमा चल रहा है।  

रिपोर्टर- सुनीता प्रजापति

Published on Jan 25, 2018