देखिए छतरपुर जिले से जहाँ है एक ऐसा उपस्वास्थ्य केंद्र जो महीने में सिर्फ एक बार खुलता है

देखिये छतरपुर जिले के ग्राम पंचायत बगौता की 3000 की आबादी पर बना उप स्वास्थ्य केंद्र महीने में एक दिन ही खुलता है। गांव के लोग ओप स्वास्थ्य केंद्र के खुलने की आस मा रोजाना चक्कर काटकर वापस आ जाते हैं, जिससे इलाज के लिए लोगों को छतरपुर जाना पड़ता है, या फिर झोलाछाप डाक्टरों का सहारा लेना पड़ रहा है।

भगवान दास ने बताया कि महीने में एक ही दिन ये उप स्वास्थ्य केंद्र खुलता है जिसे दिन टी.के पोलियों पिलाई जाती है बस उसी दिन ही खुलता है। मीना बसकार का कहना है कि इस महीने में केवल मंगलवार को ही खुला है। बांकी दिन क्यों नहीं खुलता है, इस बारे में हमें नहीं पता है, कि क्यों नहीं खुलता। यहाँ जब कोई बीमार होता है, तो उसको लेकर जिला अस्पताल जाना पड़ता है और कभी-कभी ऐसा भी हो जाता है, कि ज्यादा दिक्कत होने के कारन कोई-कोई रास्ते में ही दम तोड़ देता है। राजकुमारी ने बताया कि अगर ये उप स्वास्थ्य केंद्र खुल जायेगा तो बच्चों के लिए या बड़े लोगों के लिए छोटी मोटी बीमारी के लिए सुविधा हो जाएगी।

छतरपुर कार्यालय सी.एम्.ओ.एच. के पास बात करने गई तो वो दस दिन मिल ही नहीं रहे। मझको रोज कार्यालय के चक्कर काट के वापस जाना पड़ता है।

रिपोर्टर: नसरीन खातून

Uploaded on May 25, 2018